Hostinger Vs Resellerclub (दोनो में से कौन सी होस्टइंग लें)

Hostinger Vs Resellerclub (दोनो में से कौन सी होस्टइंग लें)

फ्रेंड्स अगर आप ब्लॉगिंग शुरू करना चाहते हो और इसके लिए आपको होस्टइंग खरीदना है। लेकिन आप को डाउट है कि होस्टिंगर या रिसेलरक्लब दोनो में से कौन सी होस्टइंग खरीदें या नए ब्लोगर को कौन सी होस्टइंग लेनी चाहिए तो इस पोस्ट में आपको इसके बारे में कंप्लीट जानकारी मिलेगी। जिससे कि आप ये डिसाइड कर पाएंगे कि आपको इन दोनों होस्टइंग में से कौन सी होस्टइंग लेनी चाहिए। चलिये जान लेते हैं, इसके बारे में।

देखिए फ्रेंड्स होस्टिंगर और रेसेलरक्लब् दोनों ही काफी फेमस और बेस्ट होस्टइंग कंपनी हैं। उन लोगों के लिए ये होस्टइंग कंपनी काफी मददगार है। जो लोग बहुत ही कम बजट में अपनी ब्लॉगिंग शुर करना चाहते हैं। अगर आप अफोर्डेबल प्राइस में होस्टइंग लेना चाहते हैं तो निश्चित ही ये काफी बेहतरीन होस्टइंग कंपनी हैं। लेकिन मुझे होस्टिंगर में कुछ दिक्कत देखने को मिली है, जो मैं आपको इस पोस्ट में बताऊंगा।

Fastcomet होस्टिंग के फायदे

आप सोच रहे होंगे कि मुझे कैसे पता है कि होस्टिंगर में क्या प्रॉब्लम है। मैं खुद एक ब्लॉगर हूं और पिछले 2 से 3 साल से ब्लॉगिंग कर रहा हूँ और मेरे 5 से 6 ब्लॉग भी हैं। जिन पर मैने कई होस्टइंग कंपनियों की होस्टइंग यूज की है। इसलिए मैं आपको इसके बारे में बेहतरीन जानकारी आपको दे सकता हूँ।

होस्टिंगर की तुलना में रिसेलरक्लब थोड़ा महंगी है। होस्टिंगर का पहला वाला प्लान अगर आप एक साल के लिए लेते हैं, तो ये आपको 99 रुपये प्रतिमाह में मिल जाती है।

वंही अगर आप रिसेलरक्लब की होस्टइंग लेना चाहते हैं, तो इनका पहला प्लान 165 रुपये प्रतिमाह में आपको मिल जाएगा। अगर रिसेलरक्लब थोड़ा महंगी है, तो फ्रेंड्स इसकी कुछ खासियत भी हैं। तभी मैं भी आपको रिसेलरक्लब की होस्टइंग लेने की सलाह देता हूँ।

Fastcomet होस्टिंग के फायदे

अगर आप आपके पास थोड़ा ज्यादा बजट है, तो आप फास्टकोमेट की क्लाउड होस्टइंग लें। ये आपको 3 से 4 डॉलर यानी की 220 से 270 रुपए प्रतिमाह में मिल जाएगी। इसकी बराबरी न तो होस्टइंग की शेयर्ड होस्टइंग कर सकती हैं और न ही रिसेलरक्लब की होस्टइंग। इसका कारण ये है कि फास्टकोमेट क्लाउड होस्टइंग है। जोकि आपकी ब्लॉग या वेबसाइट को सुपरफास्ट बना देती है। जिससे कि आपकी साइट जल्दी लोड होती है और फ़ास्ट होने की वजह से गूगल में जल्दी रैंक होती है। इसलिए अगर आपके पास थोड़ा बजट है, तो कंजूसी न करें ये आपका पैसा खराब नही जाएगा। ब्लॉगिंग भी एक बिजनेस है। जो आदमी बिजनेस में 2 से 3 हजार रुपये नही लगा सकता तो भाई कैसे काम चलेगा। चलिये वापस होस्टिंगर और रिसेलरक्लब की ओर चलते हैं।

होस्टिंगर में सबसे बड़ी दिक्कत ये है कि इनका कस्टमर सपोर्ट बिल्कुल नही अच्छा है। आपने इनकी होस्टइंग ले ली और कोई दिक्कत आपके वर्डप्रेस के बैकएंड में हुई तब आप क्या करेंगे। क्योंकि इनका कस्टमर केयर स्टाफ इतनी जल्दी रिप्लाई नही करता है। होस्टइंगर में आप कस्टमर केअर में काल नही कर सकते है। सिर्फ चैट के माध्यम से ही आपको अपनी समस्या उनको बतानी होगी। वो भी इंग्लिश भाषा मे। अगर आप हिंदी ब्लॉगर हैं और आपको इंग्लिश नही आती है। तब तो आपके लिए दिक्कत है।

Fastcomet होस्टिंग के फायदे

वंही होस्टिंगर की बात करें तो अगर आप इनकी होस्टइंग लेते हैं तो आप इनको सुबह 10 बजे से लेकर शाम के 6 बजे तक किसी भी समय मे काल कर सकते हैं। अगर आपकी साइट में कोई दिक्कत है तो हैंड टू हैंड फोन से बात करके ही समाधान करवा सकते हैं। अगर आप हिंदी भाषा जानते हैं तो आप कस्टमर केयर से हिंदी में बात कर सकते हैं। आप चाहे तो इंग्लिश में भी।

रिसेलरक्लब और फास्टकोमेट की होस्टइंग ऐसे लोगों के लिए बहुत ही यूजफुल है। जिनको कोई भी टेक्निकल नॉलेज नही है। क्योंकि यंहा पर आप इनके कस्टमर केयर से अपनी ब्लॉग या वेबसाइट की समस्या का समाधान करवा सकते हैं। जोकि नए ब्लॉगर को जरूरत होती है।

होस्टिंगर की दूसरी कमी ये है कि इनका डेटा सेंटर एशिया में तो है, लेकिन इंडिया में नही है। वंही रिसेलरक्लब का डेटा सेंटर इंडिया में भी है। अगर आप हिंदी ब्लॉगर हैं और आपके ऑडियंस इंडिया के हैं। ऐसे में होस्टइंग का डेटा सेंटर भी इंडिया में होना चाहिए।

Fastcomet होस्टिंग के फायदे

डेटा सेंटर का वेबसाइट या ब्लॉग की लोडिंग स्पीड पर काफी ज्यादा प्रभाव पड़ता है। अगर आपकी साइट हिंदी में है और आपकी होस्टइंग का डेटा सेंटर भी इंडिया में है। ऐसे में जब कोई भी इंडिया का व्यक्ति आपकी साइट ओपन करेगा तो आपकी साइट जल्दी लोड हो जाएगी। क्योंकि डेटा सेंटर उस व्यक्ति के नजदीक है। वंही अगर मान लीजिए इंडिया का कोई व्यक्ति किसी साइट को ओपन करता है, जिसका डेटा सेंटर इण्डिया के बाहर है। तो आपकी वेबसाइट को दूसरे कंट्री से अपना डेटा लेना होता है। दूरी की वजह से वेबसाइट की प्रोसेसिंग में ज्यादा टाइम लग जाता है। जिससे कि आपका ब्लॉग या वेबसाइट देर से लोड होता है। जिससे कि आपकी साइट की रैंकिंग पर भी असर पड़ता है। होस्टिंगर में भी यही प्रॉब्लम है कि इसका डेटा सेंटर इंडिया में नही है।

इसलिए मैं आपको यही सलाह दूंगा कि आपको रिसेलरक्लब की होस्टइंग लेना चाहिए। मैंने इन दोनों होस्टइंग को यूज किया है। इसलिए मैं आपको बता रहा हूँ।

अगर आपको बहुत ही सुपरफास्ट होस्टइंग चाहिए तो आपको फास्टकोमेट से होस्टइंग लेनी चाहिए। अब शायद आप सोच रहे होंगे कि जब फास्टकोमेट इतनी अच्छी है तो रिसेलरक्लब और होस्टिंगर के बारे में क्यों बताया। तो मैं आपको बता दूं मैने आपको ये जो प्लान बताये हैं ये शेयर्ड होस्टइंग हैं। वंही फास्टकोमेट क्लाउड होस्टइंग है। जोकि आपकी साइट की लगभग 5 से 10 गुना फास्टर बना देती है। जिसकी वजह से आपकी साइट जल्दी ग्रो होती है।

Fastcomet होस्टिंग के फायदे

कन्क्लूजन- देखिए फ्रेंड्स वैसे तो बहुत सारी सस्ती से सस्ती होस्टइंग कंपनी हैं। जंहा से आप होस्टइंग खरीद सकते हैं। लेकिन सस्ती होस्टइंग का कोई भरोसा नही। कब आपकी साइट डाउन हो जाये। अगर आप नए ब्लॉगर हैं तो आपको पता भी नही चलेगा कि आपकी साइट डाउन है। ऐसे में किसी विश्वासनीय होस्टइंग कंपनी से होस्टइंग लें। जिससे कि आपका पैसा और टाइम दोनो ही बर्बाद होने से बच जाएंगे। एक कहावत है कि मद्दा रोये बार- बार, तेजा रोये एक बार।

Leave a Comment